सोशल मीडिया पर अनमोल ठाकुर ने कैसे रचा “छोटी जीजी का किरदार” – अनमोल ठाकुर

यदि किसी में कला है, तो उसको किस तरह दुनिया के सामने रखा जा सकता  है, ओर आजकल सोशल मीडिया का सही इस्तेमाल करके यदि अपना शौक पूरा कैसे किया जाता है, यह अनमोल ठाकुर मतलब हमारी छोटी जीजी मतलब छोटी सी लड़की से सीखना चाहिए। जो लाॅकडाउन के समय का उपयोग कर अपना भविष्य बना रही है। 

इंस्टाग्राम पर विडियो बनाने से शुरुआत करके आज अनमोल लगभग सभी उम्र के लोगों की पहली पसंद बनी हुई है, क्योंकि इनके किरदार भी हमारे जीवन के आसपास मिल ही जाते हैं। 

अनमोल का जन्म 9 अप्रेल 1996 को मध्यप्रदेश इंदौर में हुआ। पिताजी बिजनेस में है और माताजी गृहणी है। दो बहनों ओर माता-पिता के इन छोटे से परिवार में अनमोल का बचपन बीता। 

अनमोल बचपन से ही शरारती ओर अपनी लोकभाषा के करीब रही है। 

ना कोई प्रपंच ओर ना ही कहीं पारिवारिक अनबनों के मुद्दों से दूर अनमोल ने लोगों की हंसी खुशी बनकर सभी के जीवन में छोटी जीजी बनकर प्रवेश कर लिया है। 

अनमोल कोरोना के कठिन समय में लोगों के चेहरे पर हंसी लाने की कोशिश कर रही है। 

अनमोल को बचपन से ही एक्टिंग ओर डांस का शौक भी रहा है, तो इन्होंने छोटी उम्र से ही डांस की क्लासेस लेना शुरु कर दी थी, थियेटर भी लगभग उसी उम्र से शुरु कर दिया था, ओर थियेटर इनकी पहली पसंद रहा है। 

पढ़ाई के साथ-साथ इन्होंने अपने शौक को भी पूरा किया है। छोटी उम्र से ही सीखना, स्टेज से लगाव रहा है। 

“डांस इंडिया डांस जैसे शो के चौथे ओर पाँचवें सीजन के टाॅप लिस्ट में भी शामिल रही है।” स्कूल की पढ़ाई के बाद ग्रेजुएशन की पढ़ाई करने तक अनमोल अपना कला जगत में नाम बना चुकी है। 

अनमोल जब भी अपने काॅलोनी के लोगों को देखती थी, तो इन्हें कुछ लोगों के किरदार आकर्षित करते थे। इन्हें लगता था, कि क्यों ना इनके किरदारों के साथ ही काम किया जाए। 

ओर सोचा शुरुआत कर दी जाए, ओर क्यों ना इन लोगों पर ही कंटेंट बनाकर सोशल मीडिया पर डालें जाएं।

एक दिन अनमोल ने अपनी माताजी से कहा कि क्यों मम्मी इन लोगों पर विडियो बना लूं। इनकी मम्मी ने भी हाँ कर दी। 

सबसे अच्छा समय अनमोल के लिए लाॅकडाउन का रहा है, जब सभी घरों में कैद थे। तब इन्होंने उस समय का उपयोग कर उन किरदारों पर काम करके विडियो बनाना शुरु कर दिए। 

अनमोल ने विडियो बनाने की शुरुआत मजाक में की थी, मम्मी की साड़ी पहन कर मोहल्ले की शादी के कुछ किरदारों को देखकर उन पर विडियो बनाएं। जब सोचा नहीं था, कि इनका किरदार इतना लोकप्रिय हो जाएगा। 

छोटी जीजी का किरदार यह लोगों को बहुत पसंद आया। अनमोल अभिनय का वैसे भी एक जाना-पहचाना नाम है, थियेटर में काम कर चुकी है, तो अनमोल को किरदारों को अवलोकन करने में इतनी कोई परेशानी नहीं होती है।

जब अनमोल का पहला विडियो वायरल हुआ, जो शादी के विषय पर ही था, उसके बाद वैसे ही कंटेंट को लेकर आई है। 

अनमोल हमेशा अच्छे ओर पारिवारिक विषयों पर ही विडियो बनाती है। जिसे सब लोग एकसाथ बैठकर देख सकें। ओर अपनापन महसूस कर सकें। 

अब तक अनमोल मुम्बई में रहकर डांस शो के अलावा कुछ धारावाहिकों में ओर बड़े कलाकारों के साथ भी काम कर चुकी है।

अनमोल का सबसे ज्यादा सहयोग इनके परिवार का ही रहा है, उनके सहयोग के बिना इनका इतना सफर होना मुश्किल था, जब इनके परिवार वालों से लोग मिलते हैं,इनकी तारीफ करते हैं, तो इन्हें खुशी मिलती है। 

ओर इनके परिवार वालों को अनमोल पर अभिमान होता है। 

अनमोल अपनी विडियो में सभी कामों को खुद ही करती है, चाहे वह कंटेंट लिखना हो या एडिटिंग करना हो।

अनमोल बताती है, कि ऐसा नहीं है, कि प्रतियोगिता नहीं है, इनसे भी अच्छे विडियो लोग बना रहे हैं, काम कर रहे हैं। पर अपनी ईमानदारी ओर अपने काम के प्रति लगन से मैं काम कर रही हूँ, तो वह लोगों को पसंद आ रहा है। 

उतार चढ़ाव एक सामान्य सी बात है, पर अपने काम के प्रति प्रेम ही पूजा होती है। कलाकार के लिए पूजा उसकी कला ही होती है। 

छोटी जीजी के किरदार को  लोगों का इतना असीम प्रेम मिल रहा है, उसकी अभिव्यक्ति करना मुश्किल है। 

अब अनमोल उसी किरदार को लेकर कुछ अच्छे प्रोजेक्ट पर काम करना चाहती है। 

अनमोल ने लोगों के बीच रहकर काम को, किरदारों के अनुरूप ढलना सीखा है। अब अनमोल यूट्यूब पर भी अपने विडियो लेकर आने लगी है। 

एक संघर्ष सभी के साथ होता है, पर सब्र रखकर उसकी गति के साथ चलना बहुत जरुरी होता है। 

जैसे पानी को प्रवाहित होने के रास्ते मिल ही जाते हैं, वैसे ही यदि मेहनत ओर सीखने की कोशिश सतत् है, तो

रास्ते मिल ही जाते हैं।

असफलता सभी के हिस्से में आती है, पर उससे हारकर नकारात्मक की तरफ नहीं जाना चाहिए। हमेशा अपने काम से खुश रहना चाहिए और लक्ष्य की तरफ आगे बढ़ना चाहिए।

अनमोल का मूलमंत्र यही है, कि यदि अपने काम की ओर अपनी पहचान छोड़ना है, तो कभी किसी की काॅपी नहीं करना चाहिए, ओर किसी के जैसे बनने की कोशिश नहीं करना चाहिए।

    अनमोल सभी से यही कहती हैं कि हिम्मत ओर लोगों से अच्छे व्यवहार बनाकर रखिएगा, जीवन में कुछ काम आए ना आए सबंध हमेशा पूंजी बनकर साथ चलते हैं।

     जहाँ परिवार वाले मौजूद नहीं होते हैं, वहाँ आपके व्यवहारों की मौजूदगी काम करती है।

अपने छोटे से प्रयास से अनमोल अपने परिवार ओर अपना नाम स्थापित करना चाहती है। ताकि लोग उन्हें उनके काम से जाने आज अनमोल कहीं भी या किसी भी कार्यक्रम में शामिल होती है, तो उनका किरदार उनके अभिनय की पहचान से ही होती है। जो इनकी उपलब्धि है।

More from author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related posts

Latest posts

फोन से विडियो बनाने से कैसे वेबसीरिज के डायरेक्शन की शुरुआत की – सुखवंत कत्थी ( सुख )

बात करें सन् 2012 से 2014 के समय की तो उस वक्त में मोबाइल ओर इंटरनेट का इतना प्रचलन नहीं था। विडियो बनाने का...

ग्वालियर के शाकुल बास्केटबॉल कोच से कैसे बने तेलुगू फिल्म के हीरो, ओर कैसे सीखी तमिल – शाकुल शर्मा

मन में लगन हो तो सबकुछ आसान होने लगता है, जिसका एक उदाहरण अब हमारे साथ है। हम बात कर रहे हैं, शाकुल की जिनका...

मल्टीनेशनल कम्पनी में नौकरी के साथ ही कैसे “द कपिल शर्मा शो” के स्क्रिप्ट राइटर बने – एकाग्र शर्मा 

एक कहावत लोग कहते हैं, "मनुष्य को कमाने-खाने के साथ ही सपनों को भी जीवित रखना चाहिए।"  जैसे पानी के बिना मनुष्य जीवित नहीं रह...

ताजा खबरों से अपडेट रहना चाहते हैं ?

हमें आपसे सुनना प्रिय लगेगा ! कृपया अपना विवरण भरें और हम संपर्क में रहेंगे। यह इतना आसान है!